Google Maps Updates: गूगल मैप्स एक्सीडेंट और चालान से बचाएगा, जानिए कैसे एक्टिव होगा फीचर

Google Maps Updates: गूगल मैप्स के फीचर का नाम स्पीड लिमिट वॉर्निंग है। इसका इस्तेमाल करने के लिए आपको गूगल मैप्स के लेटेस्ट वर्जन से अपडेट करना होगा। सड़क दुर्घटना के ज्यादार मामले बहुत अधिक स्पीड के कारण होते हैं।

जरूर पढ़े: Google क्रोम की स्मार्ट सीक्रेट विशेषताएं क्या हैं?

गूगल मैप्स की ओवर स्पीड लिमिट वॉर्निंग की मदद से आपकी स्पीड कंट्रोल में रहेगी और दुर्घटना के चांस काफी हद तक कम हो जाएंगे। इसकी मदद से आपकी जान और माल की भी बचत हो जाएगी। Google Maps की मदद से बिना इधर-उधर भटके जहां जाना हो वहां तक पहुंचना आसान हो जाता है।

Google Maps Updates

Google Maps Speed Limit Warning Feature

गूगल मैप्स (Google Maps) ने लोगों के सफर को बहुत ही सरल और सुगम बना दिया है। इसकी मदद से ना सिर्फ आपको रास्ते की सही जानकारी मिलती है बल्कि लोगों को भटकने से भी बचाता है। जिससे समय का नुकसान नहीं होता। लेकिन क्या आप जानते हैं गूगल मैप्स हादसे से बचाता है। इतना ही नहीं ये ट्रैफिक चालान से भी बचाता है। इसके लिए यूजर्स को बस एक टूल का इस्तेमाल करना होता है। आइए जानते हैं गूगल के इस फीचर के बारे में और कैसे इसे एक्टिवेट करें।

गूगल मैप्स स्पीड लिमिट वॉर्निंग

गूगल मैप्स के इस फीचर का नाम स्पीड लिमिट वॉर्निंग (Speed Limit Warning) है। गाड़ी चलाने के दौरान जब आप तेज वाहन चलाते हुए स्पीड लिमिट को क्रॉस करेंगे। तब यह फीचर अलर्ट करता है। अधिकतर एक्सीडेंट तेज रफ्तार पर गाड़ी काबू न कर पाने के कारण होते हैं। ऐसे में अगर सीमित रफ्तार में वाहन चाहए तो दुर्घटना होने की संभावना बेहद कम हो जाती है। वहीं कई शहरों में जगह-जगह पर ट्रैफिक डिपार्टमेंट के स्पीड कैमरे लगे रहते हैं, जो ओवर स्पीड गाड़ियों की फोटो क्लिक करके घर पर चालान भेज देते हैं। ऐसे में गूगल का यह फीचर चालान कटने से भी आपको बचाता है।

जरूर पढ़े: Google Assistant Tips गुड मॉर्निंग बोलते ही फोन बताएगा मौसम और न्यूज का हाल

सड़क दुर्घटना के ज्यादार मामले बहुत अधिक स्पीड के कारण होते हैं। गूगल मैप्स का ओवर स्पीड लिमिट वॉर्निंग की मदद से आपकी स्पीड कंट्रोल में रहेगी और दुर्घटना के चांस काफी हद तक कम हो जाएंगे। जब आप इस फीचर के साथ नेविगेशन यूज करते हुए ड्राइविंग करते हैं तो यह आपकी स्पीड बताने के साथ ही ओवर स्पीड होने पर इंडिकेशन भी देता है। इस क्रम में गूगल मैप का स्पीडोमीटर रंग बदलता है और आपको खतरे का इशारा करता है। यह रंग बदलने वाला संकेत आपको स्क्रीन पर ट्रैवेल टाइम ड्यूरेशन के ऊपर बाएं कोने में स्पीड लीमिट सेक्शन में दिखेगा।

कैसे एक्टिव करें स्पीड लिमिट टूल

स्पीड लिमिट टूल का इस्तेमाल करने के लिए गूगल मैप्स का लेटेस्ट वर्जन अपडेट करना जरूरी है। तभी इसका इस्तेमाल कर पाएंगे। आइए जानते हैं कैसे आप इस फीचर को एक्टिव कर सकते हैं।

स्टेप 1 – गूगल मैप्स ओपन करें। दाईं ओर दिख रहे प्रोफाइल आइकन पर टैप करें।

स्टेप 2 – सेटिंग ऑप्शन में जाकर नेविगेशन सेटिंग पर क्लिक करें।

स्टेप 3 – अब स्पीड लिमिट सेटिंग वाले विकल्प का चयन करें।

स्टेप 4 – फिर स्क्रीन के नीचे जाएं और स्क्रॉल करके ड्राइविंग ऑप्शन को चुनें।

स्टेप 5 – स्पीड लिमिट एंड स्पीडोमीटर ऑप्शन को ऑन करें।

स्टेप 6 – अब आपके फोन में गूगल मैप्स का ये फीचर ऑन हो जाएगा।

यदि आप Google Maps Updates गूगल मैप्स के स्पीड लिमिट वॉर्निंग फीचर के बारे मैं इंग्लिश भाषा में पढ़ना चाहते हैं तो आप दिए गए लिंक पर क्लिक करें।

जान है तो जहान है ये लाइन आप सभी ने जरूर सुनी होगी। जीवन है तो सब कुछ है इसलिए गूगल मैप के इस फीचर से आपकी और दूसरे लोगो की न केवल जान बल्कि पैसे की भी बचत हो सकती है. हमेशा गाडी चलाते समय सावधानी रखनी होगी।

यदि आपके पास अभी भी कोई प्रश्न शेष है या कोई सुझाव देना चाहते हैं, तो हमें info.skyneel[@]gmail.com पर मेल करें।