अमेज़न क्विज खेले और जीते Lenovo Legion Gaming Laptop

स्मार्टफोन स्लो हो गया तो रीमूव प्री-इंस्टॉल्ड ऐप्स स्मार्टफोन से पूरी तरह से

आपके स्मार्टफोन में कई प्रीइंस्टॉल्ड ऐप्स होते है जिनमे से कई ऐप्स आपके लिए काम के नहीं होंगे। इन ऐप्स से यदि फ़ोन स्मार्टफोन स्लो हो गया है तो रीमूव प्री-इंस्टॉल्ड ऐप्स (remove pre-installed apps) स्मार्टफोन से पूरी तरह से ताकि फ़ोन की परफॉरमेंस को बेहतर बनाने और स्टोरेज स्पेस को खाली करने में सक्षम होंगे।

अगर आप प्री-इंस्टॉल्ड ऐप्स इस्तेमाल न भी करें तो भी ये ऐप्स आपके फोन में वाई-फाई मोबाइल डाटा और प्रोसेसर आदि का इस्तेमाल करती हैं।

जरूर पढ़े: बिना इंटरनेट के भी Google Maps पर देख पाएंगे रास्ते, जानें कैसे

रीमूव प्री-इंस्टॉल्ड ऐप्स (Remove Pre-Installed Apps)

आपके स्मार्टफोन में सभी प्रीइंस्टॉल्ड ऐप्स आपके लिए काम के नहीं होंगे। जिन ऐप्स को आप चाहते हैं या जिनकी आवश्यकता नहीं है, उन्हें हटाकर, आप अपने फ़ोन के प्रदर्शन को बेहतर बनाने और स्टोरेज स्पेस को खाली करने में सक्षम होंगे। जिन ऐप्स की आपको आवश्यकता नहीं है, लेकिन जिन्हें अनइंस्टॉल नहीं किया जा सकता, उन्हें ब्लोटवेयर कहा जाता है। दी गई टिप्स की हेल्प से आप आसानी से प्रीइंस्टॉल्ड ऐप्स और ब्लोटवेयर हटा, इनएक्टिव, या छुपा सकते हैं।

Remove Pre-install-apps from Smartphone

जरूर पढ़े: अपने टीवी में सर्वश्रेष्ठ ऑडियो गुणवत्ता कैसे प्राप्त करें

हम जब भी नया स्मार्टफोन खरीदते हैं तो उसमें कई खासियतें होती हैं। उन्हीं में से एक लेटेस्ट ऑपरेटिंग सिस्टम (OS) होता है जो कई नए फीचर्स के साथ आता है। इसी OS के साथ स्मार्टफोन में कुछ प्री-इंस्टॉल्स ऐप्स भी आती हैं। इन्हें आप अनइंस्टॉल भी नहीं कर सकते हैं। ये ऐप्स आपके फोन की स्टोरेज को घेरती हैं साथ ही प्रोसेसर का इस्तेमाल भी करती हैं। इस तरह की ऐप्स को ब्लॉटवेयर भी कहते हैं। इनमें से कई ऐसी ऐप्स भी होती हैं जो यूजर के किसी भी काम की नहीं होती हैं। अगर आप इन्हें इस्तेमाल न भी करें तो भी ये ऐप्स आपके फोन में वाई-फाई, मोबाइल डाटा और प्रोसेसर आदि का इस्तेमाल करती हैं। इस पोस्ट में हम आपको इन्हें हटाने का तरीका बता रहे हैं।

पहला तरीका:

कई एप्लिकेशन संसाधनों का उपभोग करना जारी रखते हैं, जबकि वे सक्रिय उपयोग में नहीं हैं। वे ऐप ड्रावर में भी जगह लेते हैं। हालांकि, एंड्रॉइड 4.0 के बाद से ऐप्स को डिलीट करने का विकल्प आया है। सेटिंग्स> ऐप्स पर जाएं। यहां, अधिकांश फोन पर, आपको तीन टैब मिलेंगे: सभी ऐप्स, डिलीट और एक्टिव।

इस या उस ऐप पर टैप करके, आप देखेंगे कि कुछ ऐप अनइंस्टॉल किए जा सकते हैं। यह उन ऐप्स पर लागू होता है जिन्हें आपने स्वयं डाउनलोड किया होगा, लेकिन अनावश्यक ब्लोटवेयर भी होंगे जिन्हें आप हटा सकते हैं।

जरूर पढ़े: WhatsApp Hack होने से अपने Android और iOS डिवाइस को कैसे सुरक्षित रखें

1. आपको बता दें कि प्री-इंस्टॉल्स ऐप्स को डिलीट तो नहीं किया जा सकता है लेकिन इन्हें ऑफ जरूर किया जा सकता है। इसके लिए आपको फोन सेटिंग्स में जाकर General टैब पर टैप करन होगा। इसके बाद Apps and Notifications को सेलेक्ट करना होगा।
2. यहां आपको दो विकल्प मिलेंगे। इनमें से एक Uninstall तो दूसरा Force Stop होगा। वहीं, कुछ ऐप्स के लिए Uninstall विकल्प फेड हो सकता है। इसका मतलब है कि इस ऐप को Uninstall नहीं किया जा सकता है।
3. इस स्थिति में आप ऐप को Force Stop कर सकते हैं।
4. इसके बाद ऐप स्विच ऑफ हो जाएगा और फोन में दिखाई नहीं देगी।

दूसरा तरीका:

जरूर पढ़े: Google Voice कमांड को कैसे डिलीट करे

1. अगर सेटिंग्स से ऐप को डिसेबल नहीं कर पा रहे हैं तो आप गूगल प्ले स्टोर पर जा सकते हैं।
2. प्ले स्टोर पर जाकर आपको टॉप लेफ्ट कॉर्नर में मेन्यू पर टैप करना होगा।
3. इसके बाद My Apps and Games पर टैप करना होगा।
4. यहां आपके फोन में मौजूद सभी ऐप्स मौजूद होंगी। जिसे भी आप हटाना चाहते हैं उसके लिए Uninstall या Disable सेलेक्ट कर सकते हैं।
5. एक बार डिलीट होने के बाद, ऐप आपके ऐप ड्रॉअर से गायब हो जाते हैं, अपडेट प्राप्त करना बंद कर देते हैं और अब बैकग्राउंड में चुपचाप नहीं चलते हैं। इसके अलावा, कोई भी ऐप जो डिसेबल ऐप पर निर्भर है, काम करना बंद कर देगा। आपको अपने फ़ोन की Google Play स्टोर से डिलीट किए गए ऐप के अपडेट को भी ऑफ कर देना चाहिए

GET MORE STUFF LIKE THIS IN YOUR INBOX

Subscribe and get updates direct in your email inbox.


We respect your privacy.