अमेज़न क्विज खेले और जीते GoPro Hero7

Tech Guide -एंड्रॉइड टचस्क्रीन में खराबी है तो आजमाएं ये उपाय

Tech Guide – यदि आपके एंड्रॉइड टचस्क्रीन में खराबी है और आप काफी समस्याओं का सामना कर रहे है तो आपको दि गई टेक गाइड मे आजमाएं ये उपाय.

दिनभर स्मार्टफोन काम में लेने के दौरान हम सैकड़ों बार उसकी स्क्रीन को टच करते हैं जिसके कारण उसमें खराबी आती रहती है। हालांकि ऐसा हमेशा हार्डवेयर फेल होने से नहीं होता, बल्कि इसके और भी कई कारण हो सकते हैं।

जरूर पढ़े: Parenting Tips: स्मार्ट पेरेंट्स बनिए, बच्चे को नहीं पड़ेगी स्मार्टफोन की लत

Tech Guide – एंड्रॉइड टचस्क्रीन में खराबी है तो आजमाएं ये उपाय

अगर आपके एंड्रॉइड फोन में भी इस तरह की कोई खराबी आ रही है तो प्रोफेशनल हेल्प लेने से पहले आप इन Tech Guide को आजमा सकते हैं-

Tech Guide - एंड्रॉइड टचस्क्रीन में खराबी है तो आजमाएं ये उपाय

बग की पुष्टि

इसके लिए टच पर आधारित ये तीन परीक्षण कर सकते हैं- फोन को रीबूट, सेफ मोड में बूट और डिस्प्ले डायग्नोज करना। प्ले स्टोर पर उपलब्ध कई रेंज के एप्स में एक है डिस्प्ले टेस्टर (जो निशुल्क उपलब्ध है)। यह डेड पिक्सल्स, ओलेड स्क्रीन्स पर बर्न-इन, कंट्रास्ट व सैचुरेशन की एक्युरेसी, मल्टी-टच स्टेटस आदि को डिटेक्ट करता है।

जरूर पढ़े: बिना स्क्रीनशॉट लिए आसानी से स्मार्टफोन पर Save WhatsApp Messages

Android डिवाइस को पुनरारंभ करें

किसी भी अन्य समस्या निवारण प्रक्रिया में भाग लेने से पहले, अपने एंड्रॉइड फोन या टैबलेट को सॉफ्टवेयर गड़बड़ को ठीक करने के लिए पुनरारंभ करें जो स्क्रीन को कार्य करने से रोक सकता है। टच स्क्रीन के साथ एंड्रॉइड डिवाइस को पुनरारंभ करने के लिए ठीक से काम नहीं कर रहा है:

  1. पावर बटन को तब तक दबाकर रखें जब तक स्क्रीन blank न हो जाए;
  2. 1 मिनट या इसके बाद, डिवाइस पर पावर को फिर से पावर बटन दबाए रखें।
  3. कई मामलों में, डिवाइस रिबूट के बाद टच स्क्रीन सामान्य रूप से प्रतिक्रिया देगा।

स्क्रीन प्रोटेक्टर को रिमूव करना

कई यूजर्स अपने फोन को पानी, लिक्विड या स्क्रैचेज से बचाने के लिए प्लास्टिक या ग्लास का स्क्रीन प्रोटेक्टर उपयोग करते हैं, इसलिए स्क्रीन प्रोटेक्टर को हटाकर देखें कि रेस्पॉस रेट बढ़ता है या नहीं।

जरूर पढ़े: स्मार्टफोन स्लो हो गया तो रीमूव प्री-इंस्टॉल्ड ऐप्स स्मार्टफोन से पूरी तरह से

डिवाइस को सेफ मोड में रखें

दूषित या परेशानी वाले third party एप्लिकेशन Android फ़ोन या टेबलेट पर टच स्क्रीन समस्या का कारण बन सकते हैं। सुरक्षित मोड के तहत, आपके द्वारा डाउनलोड किए जाने वाले सभी third party एप्लिकेशन Corrupted हो जाएंगे। इसलिए यदि टच स्क्रीन सुरक्षित मोड में अच्छी तरह से काम करती है, तो आपको कुछ third party एप्लिकेशन को अनइंस्टॉल करना चाहिए, विशेष रूप से जो टच स्क्रीन समस्या शुरू होने से पहले हाल ही में इंस्टॉल किए गए थे।

अपने Android डिवाइस को बंद करें

  1. डिवाइस को रिबूट करने के लिए पावर बटन लंबा प्रेस करें;
  2. जब आप सैमसंग, नेक्सस, एलजी या अन्य ब्रांड लोगो देखते हैं, तो पावर बटन जारी करें और वॉल्यूम डाउन बटन दबाए रखें;
  3. वॉल्यूम डाउन बटन को छोड़ें जब डिवाइस नीचे बाएं कोने पर एक सुरक्षित मोड संकेतक के साथ बूट होता है।

वॉइस या फेस मूवमेन्ट्स से कंट्रोल

टच इनपुट्स पर निर्भरता के बजाए एंड्रॉइड के इंटरेक्शन मैथड्स, यूजर्स को बेहतर समाधान देते हैं। सही ढंग के एप्स से आप फोन पर पूरी तरह अपनी वॉइस और फेस के मूवमेंट्स के जरिए नेविगेट कर सकते हैं। इसमें वॉइस एक्सेस और इवा फेसियल माउस एप्स उपयोगी हैं।

जरूर पढ़े: यूट्यूब वीडियोज को बिना वाई-फाई या डाटा के कैसे देखे

स्क्रीन लेटेंसी सुधारना

इसके लिए आप टचस्क्रीन रिपेयर (प्रीमियम वर्जन भी उपलब्ध) जैसे थर्ड-पार्टी एप्स को भी काम में ले सकते हैं। यह आपकी स्क्रीन की जांच (कैलिब्रेट) करके रेस्पॉन्स टाइम को घटा सकता है। फिर फोन के इंटरनल्स के आधार पर स्क्रीन की कम सक्रियता या लेटेंसी को कृत्रिम रूप से ड्रॉप कर देते हैं। रिपेयरिंग का असर मेकर्स पर अलग-अलग निर्भर करता है।

एक्सटर्नल कीबोर्ड व माउस पेयरिंग

इस ट्रिक को तब आजमाएं जब आप स्क्रीन प्रॉब्लम के कारण कोई भी एप इंस्टॉल नहीं कर पा रहे हों। एंड्रॉइड फोन को एक्सटर्नल कीबोर्ड व माउस के साथ कंट्रोल करना ज्यादातर स्ट्रेटफॉरवर्ड होता है। इसके लिए सही केबल का चयन और एसेसरीज को प्लग इन करें।

GET MORE STUFF LIKE THIS IN YOUR INBOX

Subscribe and get updates direct in your email inbox.


We respect your privacy.